पति पत्नी के बीच कलेश का समाधान


Pati patni ke bich kalesh ka smadhan

कहते है की परिवार रूपी गाडी के दो पहिये होते है | यदि इसमें से एक भी रुक जाय तो परिवार का चलना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है | पति पत्नी के बीच खराब हुए रिश्तो में कुछ बाते तो कामन होती है| जैसे पति या पत्नी के बीच में किसी अन्य महिला या पुरुष का प्रवेश | सौतन की समस्या तो पति पत्नी के रिश्तो को तलाक़ तक ले जाती है | पति पत्नी के रिश्तो के बीच में परिवार वालो का दखल नही सस्या का एक कारण है |

पति या पत्नी में से किसी एक की भी जन्म कुंडली यदि मंगल दोष से पीड़ित होगी तो भी दोनों के रिश्ते कभी भी मधुर नहीं रहेंगे |

शादी के समय यदि पति या पत्नी की जन्म कुंडली का सही ढंग से मिलान ना किया गया हो तो भी समस्याए बनी ही रहती है | जन्म कुंडली के मिलान करते समय अन्य दोषों से अलग हटकर मैत्री का मिलान अवश्य ही कर लेना चाहिए | जन्म कुंडली में गंड और योनी को देखा जाना चाहिए | यदि पुरुष या स्त्री का गंड दानव हो और दुसरे का देव हो तो भला दोनों का रिश्ता कैसे निभेगा | इसी तरह यदि पति या पत्नी दोनों मर से कोई भी सर्प योनी का हो तो दोनों मर कलेश होना निश्चित है |

पित्र दोष या काल सर्प दोष या ग्रहण दोष में भी पति या पत्नी के रिश्ते मधुर नहीं रहते है | इसलिए यदि पति पत्नी के बीच में रिश्ते मधुर ना हो अक्सर लड़ाई झगडा होता हो तो किसी भी विद्वान् ब्राह्मण से पति और पत्नी की कुंडली को अवश्य दिखा लेनी चाहिए | और उनके द्वारा बताये गए उपायों को करके पति और पत्नी के रिश्तो को मधुर बनाया जा सकता है |

उपाय :

१- शनिवार को लकड़ी का सवा किलो कोयला को लेकर अपने सिर से सात बार उबार कर बहते हुए जल में प्रवाहित कर दे |

२- गोमेद रत्न धारण करे |

३- शादी की साल गिरह पर मंदिर में दुबारा शादी करे ||

४- एक नारियल तथा तिरालिस पीस सिक्के तिरालिस दिनों तक जल प्रवाह करे ||

५- पति और पत्नी के पहने हुए कपडे में गाँठ बाँध कर कही छिपा कर रख दे |

पति को वश में करने का उपाय :

किसी भी होली , दिवाली या दसहरा को इस मंत्र को एक सौ आठ बार पढ़कर सिद्ध कर के पति को अपने वश में किया जा सकता है

मंत्र :

|| कलि काली महा काली मम पतिए वश्यं कुरु कुरु स्वाहा ||

पत्नी को वश में करने का उपाय :

किसी भी शुभ मुहूर्त में प्रातः काल स्नान के बाद होली , दिवाली या दसहरा को इस मंत्र को एक हजार आठ बार पढ़कर सिद्ध कर के पत्नी को अपने वश में किया जा सकता है यदि इस मंत्र को सिद्ध करने के बाद किसी भी तरह से मिठाई इत्यादि को सिद्ध करके पत्नी को खिला दिया जाय तो पत्नी जीवन भर के लिए दासी बन जाएगी |

मंत्र :

|| मद मद मद मादय खिल ह्रीं ( पत्नी का नाम ) नाम्नी अमुकस्य्रुपाम वसम कुरु कुरु स्वाहा ||

नोट - घर के अंदर कूड़े या कबाड़ को ना रहने दे | घर से रद्दी को निकाल दे | घर में बंद घडिया या बंद कल्कुलेटर , कम्पुटर , ना रहने दे | नित्य स्नान करे | नित्य ही हलके सुगंध का प्रयोग करे | सोने वाले कमरे में लाल रंग का कम से कम प्रयोग करे | शयन के कमरे में लव बर्ड या कृष्ण और राधाका प्यार करते हुए तस्वीर लगावे | घर के अंदर मंदिर से पूर्वजो की तस्वीर तुरंत हटा दे | घर के मंदिर में कोई भी मूर्ति टूटी फूटी ना हो | घर के मंदिर में चांदी की कोई भी मूर्ति या वर्तन ना रखे | घर में नित्य ही सफाई के पानी में नमक मिला कर ही  सफाई करे | पत्नी अपना जूठन पति को किसी भी तरह से अवश्य ही खिलावे | | घर में नित्य सुबह शाम थोड़ी देर गायत्री मंत्र की धीमी धून बजने दे |

 

 


पति पत्नी के बीच कलेश का समाधान




SERVICES OF HIPNOTIZAME

वशीकरण