गीदड़ सिंग्घी


Gidar Singhi

तांत्रिक और मांत्रिक दोनों ही बिधियों मे प्रयोग आने वाली गीदड़ सिंघी का प्रयोग वशीकरण , धन की प्राप्ति , विवाह मे आ रही बाधा को दूर करने के लिए और प्रेम विवाह मे आ रही बाधा को दूर करने के लिए किया जाता है | गीदड़ सिंघी सियार के सिर पर पायी जाने वाली गांठ होती है जो की सियार के द्वारा खुजली होने पर किसी पेड़ के साथ रगड़ने से टूट कर गिर जाती है जिसे आदिवासी लोग उठा लाते है | गीदड़ सिंघी के बारे मे बताना सूरज को शीशा दिखने जैसा ही होगा | बाज़ार मे कुछ चालाक लोग भोले भाले लोगो को बहलाकर नकली गीदड़ सिंघी को असली कहकर बेंच देते है जिससे बेचने वाले को तो फायदा होता है किन्तु खरीदने वाले को भरी नुकसान उठाना पड़ता है |

असली गीदड़ सिंघी को प्राप्त  करके दिवाली , होली , पूर्णमासी या फिर अमावस्या की रात्रि के शुभ मुहूरत मे मंत्रो द्वारा सिद्ध किया जाता है | सिद्धि के बाद गीदड़ सिंघी को किसी भी चाँदी की डिब्बी मे हनुमान सिदुर के साथ घर के मंदिर मे रख देना चाहिए | गीदड़ सिंघी के साथ देशी कपूर ,हरी इलायची , फूलदार लौंग के साथ रखने से तीन गुना ज्यादा फायदा मिलता है | गीदड़ सिंग्घी के बाल लगातार बढ़ते रहते है इसलिए इसके साथ रखे सिंदूर पर ध्यान देते रहे जब भी सिंदूर कम हो जाये उसमे और सिंदूर डालते रहे | सिंदूर का खत्म होना असली होने का सबूत है |

जिस घर मे गीदड़ सिंग्घी रहती है वहा पर काली साया , भूत प्रेत , जिन्न या चुड़ैल का दर नहीं रहता है | गीदड़ सिंग्घी को घर मे रखने से वास्तु दोष दूर होता है | गीदड़ सिंग्घी से भाग्योदय होता है | गीदड़ सिंग्घी से दुश्मन का नाश होता है | गीदड़ सिंग्घी से गरीबी दूर हो जाती है | गीदड़ सिंग्घी से कर्ज़ से छुटकारा मिल जाता है | इसके अलावा भी गीदड़ सिंग्घी से कई फायदे मिलते है |


गीदड़ सिंग्घी




SERVICES OF HIPNOTIZAME

वशीकरण